Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

प्रतापगढ़:सड़क दुर्घटना में दो युवक के मौत के बाद प्रदर्शन का मामला: दर्जनों लोगों के विरुद्ध विभिन्न गंभीर धाराओं में दर्ज हुआ मुकदमा



वेद व्यास त्रिपाठी

प्रतापगढ़। कंधई पुलिस ने सड़क दुर्घटना में दो युवक की मौत के उपरांत शव को रास्ते पर रखकर प्रदर्शन करने के मामले में दर्जन भर से अधिक नामजद और 50 अज्ञात महिला पुरुषों के खिलाफ विभिन्न गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।


कंधई पुलिस में तैनात दरोगा मोहम्मद शमशेर आलम ने दर्ज कराए गए मुकदमे के तहरीर में कहा है कि 23 सितंबर के रात्रि में ग्राम कोनी निवासी 25 वर्षीय बृजेश कुमार पुत्र विजयमान , 23 वर्षीय गुलाब पुत्र रामकरन उम्र लगभग कोनी से अपनी मोटरसाइकिल से मदाफरपुर की ओर से आ रहे थे कि मदाफरपुर पेट्रोल टंकी के पास जेसीबी मशीन से दुर्घटना ग्रसित होने के कारण गंभीर रुप से घायल हो गये थे जिन्हें अस्पताल ले जाते समय मृत्यु हो गयी थी । इसके संबंध में थाना कोहड़ौर, जनपद-प्रतापगढ़ में मुकदमा पंजीकृत करके  पोस्टमार्टम की कार्यवाही करायी गयी। पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनो को सुपर्द किया गया। परिजन शव को लेकर कोनी थाना कंधई क्षेत्र अपने घर पर आये लेकिन मौके पर मौजूद मेवालाल वर्मा पुत्र गजाधर निवासी कोनी कंधई , मंजीत पुत्र मेहीलाल निवासी राजमलपुर कोनी कंधई ,  पंकज पाल पुत्र कल्लूराम निवासी कोनी कंधई , महेन्द्र पुत्र हीरालाल,अजय पटेल पुत्र रामसुन्दर पटेल, अजय पटेल पुत्र राममणि पटेल , विजय पटेल पुत्र रामसुन्दर पटेल , बुद्धिराम पटेल पुत्र स्व0 रामचरन , संजय पटेल पुत्र दुर्गेश पटेल ,विपिन सरोज पुत्र रामनिहोर निवासी शिवगढ़, लक्ष्मण वर्मा पुत्र रामअधार निवासी कोनी कंधई , लालमन पटेल पुत्र जैशराम निवासी राजमलपुर कंधई , विकाश पटेल पुत्र बद्री प्रसाद निवासी प्रीतम सराय थाना कंधई  व करीब 50 अन्य पुरुष / महिला के साथ कोनी बाजार मे शाम चार बजे एक राय होकर मृतक के दोनो शव को मृतक के परिवारजनों को नाजायज तरीके से उकसाकर कोनी मदाफरपुर मार्ग को बांस बल्ली व तख्त पर दोनो शव रखवाकर रास्ते को पूर्ण रुप से अवरोध कर दिया । सूचना पर जब मै दरोगा अपने हमराह साथी व कर्मचारीगण के साथ शांतिव्यवस्था के दृष्टिगत मौके पर पहुँचा तो लोगों ने आने जाने वाले मार्ग को बांस बल्ली व तख्त लगाकर अवरोध उत्पन्न कर दिया था।मौके पर पुलिस द्वारा काफी समझाया बुझाया गया परन्तु कोई व्यक्ति मानने को तैयार नहीं हुआ बल्कि और अधिक उत्तेजित होकर पुलिस विरोधी नारे लगाते हुए हम पुलिस वालो को भद्दी-भद्दी गालियाँ देते हुए कहने लगे की आप लोग यहाँ से चले जाइए नहीं तो परिणाम अच्छा नही होगा । लोगों को समझाया बुझाया गया परन्तु अत्यधिक उग्र होकर आने-जाने वाले राहगीरो को जबरदस्ती बलपूर्वक वापस करने लगे । आसपास के दुकानदारों को जबरदस्ती दुकान बंद करवाने लगे जिससे काफी भय का माहौल उत्पन्न हो गया जिससे बाजार में अफरा-तफरी मच गया। 

मामले में कंधई पुलिस ने दर्जनों लोगों के विरुद्ध विभिन्न गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है।


Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad