Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

एसडीएम की तेज रफ्तार गाड़ी ने बाइक सवार को रौंदा, दर्दनाक मौत



अखिलेश्वर तिवारी 

डेस्क:एसडीएम की तेज रफ्तार अनियंत्रित गाड़ी के चपेट में आने से बाइक सवार युवक की दर्दनाक मौत हो गई। युवक के मौत की सूचना से परिजनों में कोहराम मच गया। मामले में मृतक के चचेरे भाई ने विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है।

मामला उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जनपद अंतर्गत देहात कोतवाली क्षेत्र से जुड़ा हुआ है। जहां शुक्रवार देर शाम उप जिलाधिकारी के तेज रफ्तार गाड़ी से बाइक सवार युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना होते ही स्थानीय लोगों ने गाड़ी को पकड़ लिया, लेकिन मौका मिलते ही उप जिलाधिकारी और चालक मौके से भाग निकले।

मिली जानकारी के अनुसार बलरामपुर के विशुनापुर मजरे फुलवरिया गांव का रहने वाला 24 वर्षीय सुनील कुमार पुत्र गुरु सहाय अपने मोटरसाइकिल से बाईपास के रास्ते जा रहा था कि सामने से आ रही उप जिलाधिकारी की तेज रफ्तार गाड़ी मोटर साईकिल में ठोकर मार कर रौंदते हुए आगे बढ़ गई। बताया जाता है कि युवक टोल प्लाजा पर काम करता था। अभी 3 वर्ष पूर्व उसका विवाह हुआ था।

मामले में मृतक के चचेरे भाई रविंद्र कुमार पासवान ने देहात कोतवाली पुलिस को दिए गए शिकायती पत्र में आरोप लगाते हुए कहा है कि उसके चचेरे भाई सुनील कुमार अपने मोटर साइकिल से बाईपास के रास्ते से जा रहे थे, तभी सामने से उपजिलाधिकारी संतोष कुमार ओझा की गाड़ी तेज रफ्तार से आ रही थी। जिसने उसके भाई के गाड़ी में टक्कर मार दी और रौंदते हुये आगे बढ़ गयी। मौके पर प्रत्यक्षदर्शियों व राहगीरों ने एसडीएम की गाड़ी को पकड़ लिया। घटना को रविन्द्र, राजेन्द्र शिवा उर्फ शिवलाल विनोद कुमार पाल, रवीन्द्र सोनकर आनन्द आदि ने देखा और घायल को अस्पताल पहचाने के लिए 108 पर फोन किया। तब तक S.D.M व उनके ड्राइवर सहकर्मी के साथ मौके से फरार हो गये। घायल को अस्पताल तक नही पँहुचाये। तब तक घटनास्थल पर ही सुनील कुमार की मृत्यु हो चुकी थी। दुर्घटना में सुनील कुमार की मोटर साइकिल बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी।

मामले में देहात कोतवाली पुलिस ने एसडीएम के गाड़ी के अज्ञात चालक के खिलाफ 304 ए 337 338 427 और 279 के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दिया है।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

5/vgrid/खबरे