गैरहाजिर मिले तहसीलदार, एसडीएम ने तलब किया स्पष्टीकरण



गौरव तिवारी

लालगंज प्रतापगढ़। तहसीलदार की लेटलतीफी को लेकर बुधवार को एसडीएम का पारा चढ़ गया। 


एसडीएम ने तहसीलदार से स्पष्टीकरण तलब करते हुए उनकी गैरहाजिरी पर नाराजगी भी जतायी है। 


एसडीएम अरूण कुमार सिंह सुबह चेंबर में जन शिकायतों की सुनवाई कर रहे थे। इस बीच सवा दस बजे तक तहसीलदार जावेद अंसारी के तहसील मुख्यालय न पहुंचने की उन्हें जानकारी हुई। 


एसडीएम ने तहसीलदार के सीयूजी पर संपर्क करना चाहा तो वह स्विच ऑफ मिला। तहसीलदार के व्यक्तिगत नंबर पर एसडीएम ने बात की तो तहसीलदार का जबाब सुनकर वह भड़क उठे। 


एसडीएम ने तहसीलदार से गैरहाजिरी का स्पष्टीकरण तलब करते हुए डीएम को भी रिर्पोट भेजी है। इधर तहसीलदार के कामकाज को लेकर वकीलों ने भी एसडीएम से मिलकर नाराजगी जतायी। 


वकीलों का कहना है कि तहसीलदार कार्यदिवस में भी तहसील परिसर में उपलब्ध नही हुआ करते हैं। इस बाबत तहसीलदार से बात करने का प्रयास किया गया किंतु संपर्क नही हो सका। 


सूत्रों के मुताबिक मंगलवार को भी तहसीलदार से अधिवक्ताओं की नोंकझोंक हुई थी। हालांकि डीएम ने यहां तहसीलदार न्यायिक पद पर भी सुप्रिया चतुर्वेदी को तैनात किया है। 


इसके बावजूद प्रशासनिक कार्यो को लेकर तहसीलदार के कामकाज से वकीलों मे नाराजगी देखी जा रही है। 


संयुक्त अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी महेश व महांत्री शेष नाथ तिवारी का कहना है कि तहसीलदार के कामकाज के ढुलमुल रवैये को लेकर तहसील समाधान दिवस में जिलाधिकारी से शिकायत की जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने