Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

प्रभु की निश्च्छल आराधना में ही है जीवन का कल्याण :देवी रश्मि किशोरी



कुलदीप तिवारी 

लालगंज,प्रतापगढ़: नगर के नेताजीपुरम वार्ड में शनिवार की देर रात सात दिवसीय श्रीमद्भगवत कथा ज्ञान यज्ञ के समापन पर भजन संकीर्तन में श्रद्वालुओं को भाव-विभोर देखा गया। 


भजन गायक जयमोदनवाल की टीम द्वारा श्री राधेकृष्ण संकीर्तन व आध्यात्मिक भजनों को सुनकर श्रद्वालु मंगन हो उठे। वही समापन कार्यक्रम में आयोजन समिति द्वारा श्री वृदावन धाम से पधारी कथा वाचिका रश्मि किशोरी जी का सारस्वत सम्मान भी किया गया। 


समापन कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए देवी रश्मिी किशोरी ने कहा कि भगवान की कथा का सार यही है कि धर्म को संरक्षण देते हुए लोक जीवन को नैतिकता के सम्बल से मजबूत बनाया रखा जाना चाहिए।  


उन्होने कहा कि  भगवान कृष्ण ने जीवन दर्शन की सुगमिता का भी सार प्रभु की निश्छल आराधना में जीवन के समर्पण का निरूपित किया है। भवगवताचार्य पं0 विनय शुक्ल ने कथा व्यास का स्वागत करते हुए कहा कि भगवान ने सदैव हमें सदमार्ग की ओर बढ़ने का संदेश दिया है। 


अधिवक्ता ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने नगर के लोगों की ओर से आभार प्रदर्शन किया। कार्यक्रम के संयोजक मनोज मोदनवाल तथा मालती मोदनवाल ने लोगों का श्रीअभिषेक किया। वही कथा समापन बेला में भजन व संकीर्तन में भी श्रद्वालु देर रात तक आस्था में डुबकी लगाते दिखे। 


इस मौके पर सूबेदार बीडी सिंह बघेल, श्रीकृष्ण तिवारी, एसपी सिंह, आईपी मिश्रा, राकेश गुप्ता, मिथलेश जायसवाल, सभासद रमेश कौशल , मक्खन शुक्ल, पवन शुक्ल, अनिल कुमार मोदनवाल, निशा मिश्रा, सुषमा सिंह, रामसिंह आदि रहें । सहसंयोजक राजमोदनवाल ने किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad