Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

नवाबगंज:नेशनल लेवल मानिटरिंग टीम ने जाना विकास का सच



पंश्याम त्रिपाठी/बनारसी मौर्या 

गोण्डा: सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की धरातल पर वास्तविकता और इन योजनाओं से लाभान्वित एवं वंचित लोगों की क्या स्थिति है? 



सरकार की मंशा को आम जनता और योजनाओं का लाभ पात्रों को पहुचाने में जिम्मेदार अधिकारी और जन प्रतिनिधि आशानुरूप कार्य कर रहे हैं कि नहीं? इन सभी मुद्दों पर क्षेत्र के विभिन्न गांवों में जाकर नेशनल लेवल टीम ने जांच-पड़ताल की और चौपाल लगाकर ग्रामीणों से संवाद स्थापित किया। 


शुक्रवार को नेशनल लेवल माॅनिटर क्षेत्र आर. के. माथुर के नेतृत्व में पंहुची टीम ने सांसद द्वारा गोद लिए गए गाँव सहित विभिन्न गांवों में जाकर प्रधानमंत्री आवास, मनरेगा, दिव्यांग, विधवा, वृद्धावस्था पेंशन, जल जीवन मिशन जैसी महत्वपूर्ण योजनाओं की भौतिक पडताल की। 


सबसे पहले खरगूपुर गाँव में पंहुची टीम ने उपरोक्त योजनाओं के 05 लाभार्थियों से संवाद कर हकीकत परखी। टीम ने गाँव में स्थित पंचायत सचिवालय पर चौपाल लगाकर ग्रामीणों से संवाद किया और समस्याओं और सुविधाओं पर विस्तार से चर्चा की।


इसके बाद टीम सांसद कैसरगंज के द्वारा गोद ली गई ग्राम पंचायत सेमरा शेख पुर पंहुची जहां टीम ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद किया तथा चौपाल भी लगाई। ग्राम सभा के प्रधान प्रतिनिधि ने जल जीवन मिशन के तहत बनी पानी की टंकी के संचालन को लेकर नाराजगी जताई और लोगों को हो रही असुविधा के बारे में टीम को अवगत किया जिस पर टीम के हेड आर. के. माथुर ने भी नाराजगी जाहिर की और जल्द से जल्द पेयजल की आपूर्ति शुरू करने के निर्देश संबंधित को दिए। 


सांसद कैसरगंज के पैतृक गांव विशनोहरपुर में भी टीम ने जाकर विभिन्न योजनाओं के मद्देनजर जांच-पड़ताल की साथ ही योजनाओं के पारदर्शी क्रियान्वयन के निर्देश भी मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिए। इसके बाद लौव्वाबीरपुर में नव-निर्मित 200 पशुओं की क्षमता वाले गौ-आश्रय केंद्र का निरीक्षण किया। 


मौके पर गौ-आश्रय केंद्र में लगभग 150 गौवंश मौजूद मिले। गौ-आश्रय केंद्र में पशुओं के लिए समुचित व्यवस्था उपलब्ध दिखने पर टीम ने सराहना की। लेकिन गाँव में ही गौ-आश्रय केंद्र होने के बाद भी आस-पास के खेतों में मौजूद छुट्टा मवेशियों के बारे में पूछने पर गाँव के लोगों ने मायूसी जताई। गांव के एक वृद्ध ग्रामीण ने कहा कि - चिराग तले ही अंधेरा होता है बाबू जी।


टीम के साथ खंड विकास अधिकारी राघवेंद्र प्रताप सिंह, एपीओ संजय पाल, एडिओ आईएसबी रमेश कुमार, जेई एमआई राज बहादुर , बीएमएम दिलीप, सचिव पवन गुप्ता, अमित पटेल, शारदा कांत पांडे सहित तमाम लोग मौजूद रहे ।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad