Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

जिलाधिकारी का दो चिकित्साधिकारियों पर चला हंटर, स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप



वेदव्यास त्रिपाठी 

जिलाधिकारी का दो चिकित्साधिकारियों पर चला हंटर, स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप । जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने कल देर सायंकाल कलेक्ट्रेट सभागार में दिनांक 30 अप्रैल तक चलने वाले विशेष संचारी रोग अभियान तथा दिनांक 17 से 30 अप्रैल 2023 के मध्य दस्तक अभियान को लेकर अंतर्विभागीय समन्वय की बैठक कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। 


बैठक के दौरान संचारी रोग नियंत्रण/दस्तक अभियान के कार्यो में लापरवाही बरतने वाले पट्टी एवं लक्ष्मणपुर प्रभारी चिकित्साधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने एवं आसपुर देवसरा में संचारी रोग नियंत्रण की प्रगति खराब होने पर आसपुर देवसरा के प्रभारी चिकित्साधिकारी कड़ी फटकार लगायी और कठोर चेतावनी देते हुये निर्देशित किया कि यदि 15 दिन के अन्दर कार्यो में यदि सुधार नही आता है तो तीनों प्रभारी चिकित्साधिकारियों के विरूद्ध निलम्बन की कार्यवाही हेतु शासन को पत्र प्रेषित किया जायेगा। उन्होने कहा कि संचारी व विषाणु जनित रोगों के दृष्टिगत किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये। 


उन्होने कहा कि मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, डायरिया, बुखार, टी0बी0 आदि संचारी रोगों से जुड़े मामलों की आशंका को देखते हुये जनपद में अन्तर्विभागीय समन्वय से युद्धस्तर पर अभियान को आगे बढ़ाये। संचारी रोग नियंत्रण/दस्तक अभियान के कार्यो की समीक्षा में पाया गया कि पंचायती राज विभाग द्वारा स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, साफ-सफाई तथा फागिंग के कार्यो में लापरवाही बरती जा रही है जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुये डीपीआरओ को निर्देशित किया कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के कार्यो में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों को स्पष्टीकरण दिया जाये। 


बैठक के दौरान उन्होने निर्देश दिया कि जिन नगर पालिका/नगर पंचायतों में नालों एवं नालियों में एण्टी लार्वा का छिड़काव तथा कूड़े का निस्तारण आदि ठीक ढंग से नही किया जा रहा है, सम्बन्धित नगर पालिका/नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारी को स्पष्टीकरण दिया जाये। 


उन्होने यह भी निर्देश दिया कि जहां के हैण्डपम्प खराब है वहां के हैण्डपम्प की मरम्मत करायी जाये तथा जहां पर पानी की व्यवस्था नही है वहां पर पेयजल की व्यवस्था करायी जाये। नगर पालिका/नगर पंचायतों में कार्ययोजना बनाकर समस्त कार्यक्रमों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। 


उन्होने कहा कि ग्राम पंचायत व निकायों द्वारा स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, फागिंग व शुद्ध पेयजल के लिये लगातार कार्य किया जाये। ग्रामीण स्तर पर संचारी रोगों के नियंत्रण हेतु तालाबों/नालों व नालियों की साफ-सफाई सुनिश्चित की जाये। 


उन्होने चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, नगर विकास, पंचायती राज, आईसीडीएस, ग्राम्य विकास, शिक्षा, दिव्यांगजन सशक्तीकरण, कृषि, पशुपालन को स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय बनाकर संचारी रोगों की रोकथाम व नियंत्रण की कार्यवाही में और तेजी लाये जाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि व्यापक जागरूकता का कार्यक्रम संचालित किया जाये। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत कार्डधारकों के गोल्डेन कार्ड बनाने जाये। 


मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया ने कहा कि कार्डधारकों के गोल्डेन कार्ड 20 अप्रैल तक शत् प्रतिशत पूर्ण कर लिये जाये जिससे शासन को रिपोर्ट समय से प्रेषित कर सके। मुख्य विकास अधिकारी ने प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया गया कि अपने स्तर से नोडल अधिकारी बनाकर गोल्डेन कार्ड के कार्य में तेजी लायी जाये, यदि किसी के द्वारा लापरवाही बरती जायेगी तो सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।


 बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 जी0एम0 शुक्ला, जिला पंचायत राज अधिकारी रविशंकर द्विवेदी, समस्त प्रभारी चिकित्साधिकारी व अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

5/vgrid/खबरे