Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

प्रतापगढ़:जिलाधिकारी की भृकुटी तनी, किसी पर हुई कार्यवाही तो किसी को कड़ा अल्टीमेटम



वेदव्यास त्रिपाठी 

प्रतापगढ़। जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में जिला स्वच्छता समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में जिला पंचायत राज अधिकारी ने पिछली बैठक की कार्यवाही के सम्बन्ध में जानकारी दी। 


स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत विभिन्न मदों में व्यय हुई धनराशि, स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) फेज-2 के अन्तर्गत व्यक्तिगत पात्र लाभार्थियों को शौचालय निर्माण हेतु प्रथम व द्वितीय किश्त की धनराशि दिये जाने व अन्य महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर के सम्बन्ध में समीक्षा की, समीक्षा के दौरान पाया गया कि जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा कार्यो में लापरवाही एवं शिथिलता बरती जा रही है जिस पर जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को कड़ी फटकार लगायी। 


स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) फेज-2 के योजनान्तर्गत चयनित स्थलों पर प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबन्धन यूनिट (पीडब्ल्यूएमयू) निर्माण की प्रगति, गंगा ग्राम/मॉडल ग्राम, शौचालय निर्माण के प्रगति की समीक्षा की, जिसमें एडीपीआरओ द्वारा सन्तोषजनक उत्तर नही दिया गया ।


जिस पर जिलाधिकारी ने एडीपीआरओ राजीव कुमार मौर्य तथा 03 जिला कन्सल्टेन्ट (एसबीएम-जी) अतुल मिश्र, प्रवेश शुक्ल व स्मिता त्रिपाठी को कारण बताओ नोटिस जारी करने हेतु निर्देशित किया। 


उन्होने निर्देशित किया कि एक सप्ताह के अन्दर प्रगति रिपोर्ट जवाबदेही के साथ उपलब्ध करायें, यदि प्रगति रिपोर्ट सन्तोषजनक नही पायी जाती है तो एडीपीआरओ के विरूद्ध विभागीय कार्यवाही जायेगी एवं मैन पावर एजेन्सी को पत्र भेजकर सम्बन्धित जिला कन्सल्टेन्ट के स्थान पर दूसरे जिला कन्सल्टेन्ट (एसबीएम-जी) उपलब्ध कराये जाये।


 जनपद के नवचयनित 954 ग्रामों की हर ब्लाक स्तर पर कार्ययोजना बनायी जाये और इसकी ट्रेनिंग करायी जाये तथा सभी प्रधानों के साथ बैठक करायें जिससे कि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण का कार्य पूर्ण हो सके।


बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया, वरिष्ठ कोषाधिकारी दीपक बाबू, जिला विकास अधिकारी ओम प्रकाश मिश्र, जिला पंचायत राज अधिकारी रविशंकर द्विवेदी सहित जिला स्वच्छता समिति के सदस्य उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad