Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

मनकापुर: लेखपाल के खिलाफ जिलाधिकारी की बड़ी कार्यवाही, किया निलंबित, जानिए क्या है पूरा मामला



पं.बी के तिवारी 

गोंडा।जनपद गोंडा के तहसील मनकापुर अंतर्गत एक गांव में किसान के खेत में लगे सागौन को खसरे में दर्ज़ करने के लिए लेखपाल द्वारा खुलेआम रिश्वत की मांग की गई।इतना ही नहीं लेखपाल द्वारा मांगी गई रिश्वत की रकम को अपने परिजनों के खाते में किसान से भेजने के लिए कहते हुए लेखपाल ने बताया कि जब पैसे आ जाएंगे तभी खसरे में पेड़ दर्ज कर रिपोर्ट दी जाएगी।पीड़ित किसान लेखपाल द्वारा मांगी गई रिश्वत की 4000 रकम लेखपाल के परिजन के खाते में भेजते हुए स्क्रीनशॉट लेकर के जिलाधिकारी गोंडा से विगत दिनों शिकायत की थी। तथा सम्बंधित प्रकरण सोशल मीडिया पर भी वॉयरल हुवा था। जिससे किसान की शिकायत को जिलाधिकारी ने गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच उप जिलाधिकारी मनकापुर से कराई तो शिकायत सही पाई गई।जिसके आधार पर लेखपाल को निलंबित करते हुए जिलाधिकारी ने जांच का आदेश दिया है।मामले में उप जिलाधिकारी मनकापुर राजीव मोहन सक्सेना ने बताया कि पंचपुती जगतापुर कोल्हार गांव के किसान मनीष कुमार सिंह पुत्र नरेंद्र सिंह ने लेखपाल इंद्र प्रकाश श्रीवास्तव के विरुद्ध रिश्वत मांगने की शिकायत की थी, जो जांच में सत्य पाई गई जिसके आधार पर कार्यवाही करते हुए इंद्रप्रकाश श्रीवास्तव को निलंबित किया गया है,तथा विभाग की जांच की जा रही है।जिलाधिकारी के सख्त रूख से हुए लेखपाल पर कार्यवाही से जहां आम लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है,वहीं विभागीय राजस्व कर्मियों में खलमंडली मची है।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

5/vgrid/खबरे