Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

दो डॉक्टरों के खिलाफ गंभीर धारा में मुकदमा दर्ज, पूरा मामला जानकर रह जायेंगे दंग




अखिलेश्वर तिवारी 

प्रसव कराने आई महिला का डॉक्टर ने ऑपरेशन करने के उपरांत बच्चा गायब कर दिया। महिला होश में आने के बाद अपने बच्चों को खोजती रही लेकिन डॉक्टर ने उसे बच्चा नहीं उपलब्ध कराया। बार-बार जोर दबाव देने के बाद डॉक्टर ने स्पष्ट कर दिया कि तुम्हें तुम्हारा बच्चा नहीं मिलेगा। मामले में प्रसूता महिला ने दो चिकित्सकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

क्राइम जंक्शन से दूरभाष पर बात करते हुए प्रसूता की बहन मन्ना ने बताया कि उसकी बहन का पति रोजी-रोटी के लिए सऊदी गया हुआ है। एक माह पूर्व उसके बहन को प्रसव पीड़ा होने के दौरान उसे चिकित्सा के यहां लेकर गई। जहां चिकित्सक ने उसका ऑपरेशन किया। ऑपरेशन के उपरांत डॉक्टर ने बच्चा नहीं उपलब्ध कराया। होश में आने के बाद प्रसूता ने अपना बच्चा नहीं पाकर बच्चे की मांग की। तब डॉक्टर ने बताया कि उसे बच्चा हुआ ही नहीं है। इसके बाद वह अपने बहन के संग घर चली आई, और फोन करके डॉक्टर से बच्चे की मांग करने लगी। तब डॉक्टर ने फोन पर कहा कि तुम्हारा बच्चा नेपाल चला गया है, तुम फिर बच्चा पैदा कर लो।

मामला उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जनपद जुड़ा हुआ है। बलरामपुर जनपद के गौरा चौराहा थाना क्षेत्र के झोव्ववा गांव की रहने वाली पुष्पा पत्नी जय जय राम ने जनपद के पचपेड़वा पुलिस को दिए गए शिकायती पत्र में आरोप लगाते हुए कहा है कि वह गर्भवती थी, एक माह पूर्व बलरामपुर के पचपेड़वा थाना अंतर्गत जुडीकुईयां स्थित मिशन हास्पिटल पहुंची, जहां पर डॉ•अकरम जमाल मिले जिनके द्वारा अपने हस्पिटल मे डिलेवरी कराने के लिए भर्ती किये । उन्होंने अपने जान पहचान वाले डॉक्टर सिद्धार्थनगर बढ़नी के रहने वाले हफीजुरहमान को बुलाकर ऑपरेशन कर बच्चा पैदा किया । आरोप है कि सात दिन तक हस्पिटल में उपचाराधीन रही। डॉक्टर अकरम जमाल ने अपने साथ डॉक्टर हफीजुरहमान के साथ लापरवाही पूर्वक मेरी डिलेवरी किये तथा पैदा हुए बच्चे को किसी के हाथ से बेच दिया है। महिला का आरोप है कि बार बार अपने बच्चे के बारे में डाक्टर से पूछा गया, तो मुझे बहाना बनाकर टाल मटोल कर रहे है।

पीड़िता के शिकायती पत्र पर पचपेड़वा पुलिस ने आरोपी दोनों चिकित्सक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दिया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad