Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

मनकापुर में डेंगू के जांच के नाम पर मची लूट, वीडियो कैमरे में हुआ कैद


                                  वीडियो



गोंडा:मनकापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने डेंगू जांच के नाम पर लूट मची हुई हुई है। पैथालोजी संचालक सरेआम मरीजो से डेंगू की जांच के नाम पर पन्द्रह सौ रूपये खुलेआम ले रहे हैं। जिसका एक वीडियो सामने आया है। परीक्षण के नाम पर ऐसा लूट खसूट करने वालों पर नकेल कसने में स्वास्थ्य महकमा नाकाम साबित हो रहा है। जबकि सूत्र बताते हैं कि डेंगू की जांच करने के लिए वाहय पैथोलॉजी लैब अधिकृत नहीं है।

मिली जानकारी के अनुसार बुधवार के दोपहर मनकापुर के समसापुर गांव निवासी मरीज दिनेश कुमार पान्डेय अपनी बीमारी के बारे में गोन्डा मुख्यालय के एमबीबीएस, एमडी डाक्टर समीर गुप्ता को मंगलवार को दिखाये थे। जहां उन्होंने सीबीसी व डेंगू  की जांच कराने के लिए निर्देशित किया था। इस बाबत मरीज जांच करवाने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनकापुर पहुंचा तो पता चला की भैया दूज त्यौहार होने के कारण सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर ओपीडी सुबह 10:00 बजे से 12:00 बजे तक ही थी। ऐसे में सरकारी अस्पताल का लैब बंद हो चुका था। लेकिन जांच करना भी मरीज के लिए आवश्यक था। क्योंकि चिकित्सक ने दिखाने पर 1 दिन की दवा लिखकर अगले दिन जांच रिपोर्ट के साथ मिलने के लिए कहा था। इस कारण से मरीज बुधवार दोपहर बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनकापुर के सामने संचालित अवध पैथोलॉजी सेंटर पर सीबीसी और डेंगू का जांच करने के लिए पहुंच गया। पैथोलॉजी सेंटर पर मौजूद नवयुवक लड़कों ने दोनों जांच के नाम पर₹1500 फ़ीस बताई। तब मरीज ने जांच के नाम पर भारी भरकम राशि का हवाला दिया जिस पर संचालक के यहां मौजूद लड़कों ने बताया कि₹1200 डेंगू और ₹300 सीबीसी के जांच का लगेगा। इस दौरान मौजूद लड़कों ने यह भी कहा कि डॉक्टर के स्थान पर सेल्फ लिख दीजिए₹200 कम हो जाएंगे। मरीज ने₹1300 जांच के नाम पर भी कम करने के लिए कहा तब लड़कों ने कम करने से साफ इनकार करते हुए कहा कि, हमारे पास ऐसी तकनीक एवं मशीन है कि आप जो भी चाहो और कितना भी कठिन जांच क्यों ना हो सिर्फ आधे घंटे में हो जाती है लेकिन रुपया मुंहमांगा देना पड़ेगा। फिलहाल जांच उपरांत मरीज की रिपोर्ट डेंगू में नेगेटिव आई। इस बाबत मरीज ने लैब सर मौजूद लड़कों से रुपए ज्यादा लगने की बात कही तब लड़कों ने अब ग़ालिब करते हुए कहा कि मैं लखनऊ में ऐसे ही काम करता था। मैं ही लैब टेक्नीशियन व सब कुछ हूं।

एसीएमओ से हुई शिकायत

सूत्रों की माने तो इस पैथोलॉजी सेंटर का ना तो पंजीकरण है और ना ही उनके यहां कोई लैब टेक्नीशियन है। इस बाबत मरीज ने एसीएमओ डॉ एके वर्मा से शिकायत दर्ज कराई है जहां उन्होंने पैथोलॉजी सेंटर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

बोले लैब संचालक

दूरभाष पर अवध पैथोलॉजी लैब के संचालक प्रवीण सिंह  ने दूरभाष पर बताया कि डेंगू की जांच ₹600 में होनी चाहिए लेकिन मौजूद कर्मियों द्वारा गलत तरीके से अधिक दाम ले लिया गया है।

 नही उठा अधीक्षक का फोन

इस संदर्भ में जानकारी लेने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अधीक्षक डॉ एसएन सिंह के फोन पर बार-बार संपर्क किया गया लेकिन उनका फोन नहीं रिसीव हुआ।

बोले एसीएमओ

एसीएमओ डॉक्टर एके वर्मा ने दूरभाष पर बताया कि डेंगू के जांच के नाम पर यह ₹1200 लिया गया है तो वह गलत है।मामले की शिकायत होने पर जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।


Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

5/vgrid/खबरे