Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

स्पेशल स्टाफ ने दो आरोपियो को अवैध-हथियार व तीन-लाख पैंसठ हजार कैश सहित दबोचा


अनीता गुलेरिया 
दिल्ली :उत्तम नगर में दिन-दिहाड़े साढे तीन बजे के करीब दो लुटेरे राह चलते एक व्यापारी से ₹4,68000 नकद कैश छीन कर मौके से फरार हो गए । ऑपरेशन-एसीपी जोगिंदर सिंह जून की निगरानी में बनी ज्वाइंट-टीम में स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर नवीन कुमार की अगुवाई में एसआई संजीव त्यागी,एएसआई हंस,उमेश, हेड-कांस्टेबल अनिल,सुमित, कलभूषण,राजकुमार,उपेन्द्र की मजबूत टीम ने सीसीटीवी फुटेज और अन्य सूचना-तंत्र माध्यमों से जानकारी जुटाई ।गुप्त-सूचना के आधार पर लूट के दोनों बदमाश दाल-मिल के पास घूम रहे हैं,स्पेशल-स्टाफ ने बिना वक्त गवाए दाल-मिल एरिया में जाल बिछाया । तभी सामने से एक सफेद रंग की एक्टिवा-स्कूटी जिसका नंबर DL- 4SCC 3515 पर सवार दो युवकों को जैसे ही रुकने का इशारा किया तभी दोनों युवको द्वारा भागने की कोशिश में,पुलिस ने घेराव करते हुए मुस्तैदी से दोनों को दबोच लिया । मौके पर चेकिंग-दौरान आरोपी से एक सोफिस्टिकेटेड पिस्टल चार-जिंदा कारतूस व नकली-पिस्तौल,तीन लाख पैंसठ-हजार कैश बरामदगी के साथ अपनी गिरफ्त में लिया ।जिला द्वारका-उपायुक्त एंटो अल्फोनस अनुसार पकड़े गए  मुख्य-आरोपी का नाम राहुल चौधरी उम्र (27) साल, वह उत्तम नगर मे DLW जिम सेंटर चलाता है,वह 2010 से 2017 तक मिस्टर-दिल्ली और कई नेशनल-लेवल की बॉडी बिल्डिंग-चैंपियनशिप मे जज रह चुका है । अब वह आगे अंतरराष्ट्रीय-चैंपियनशिप में जाना चाहता था, इसके लिए उसे दस लाख की जरूरत थी, लेकिन जिम-सेंटर से उसको उतनी कमाई नहीं हो पा रही थी,दूसरा आरोपी जिसका नाम विपिन गुप्ता उम्र (21) साल उतम-नगर,उसके पिता की मशहूर चाट-भंडार दुकान है, लेकिन अपने लग्जरी-लाइफ स्टाइल के चलते वह राहुल के जिम-सेंटर मे ट्रेनर के तौर पर काम करता था । विपिन ने हीं राहुल को जल्दी पैसा कमाने के लिए लूट-प्लानिंग बताते हुए मिल्क-सप्लायर दीपक बंसल को निशाना बनाकर, उसकी रोजाना-गतिविधियों के बारे में जानकारी जुटाई और दोपहर के समय जैसे ही दीपक बैंक में कैश जमा कराने के लिए जा रहे थे,तब दोनों सफेद एक्टिवा स्कूटी से उससे बंदूक की नोक पर ₹4,68000 कैश छीनकर मौके से भागने फरार हो गए थे  उत्तम नगर पुलिस 704/19 U/S 25 आर्म्स-एक्ट के तहत मामला दर्ज करते हुए सफेद एक्टिवा-स्कूटी को अपने कब्जे में लिया,द्वारका स्पेशल-स्टाफ जांबाज टीम ने सतर्कतापूर्वक तरीके से कम समय मे पहली हुई लूट का खुलासा करने के साथ-साथ दूसरी लूटपाट की वारदात पर लगाम कसकर बहादुरी वाला काम किया है,जो अपने-आप में बहुत ही काबिले-तारीफ है ।
Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad