Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

लालगंज सहित कई इलाकों में निकाला गया बारावफात का जुलूस, अकीकत मंदो की जुटी भीड़ एएसपी समेत पुलिस व पीएसी की दिखी कड़ी मुस्तैदी



कुलदीप तिवारी 

लालगंज प्रतापगढ़। अब कोई पैगम्बर, ना कोई पैगाम आएगा, आदमी ही आदमी के काम आएगा...। 


 बारावफात के अवसर पर रविवार को फिजा में जब यह नारा जब गूंज रहा था तो ऐसा लग रहा था चारों तरफ इतिहाद का छटा बिखर रही थी।


नगर पंचायत लालगंज सहित तहसील लालगंज के विभिन्न इलाकों में पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब के जन्म दिन ईद-ए-मिलाद-उन-नबी हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।


साथ जलसा सहित धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। तहसील क्षेत्र के कस्बा सहित क्षेत्र के विभिन्न गांवों में रविवार को ईद मिलादुन्नबी के मौके पर लोग अति उत्साहित दिखें। 


गांव की गलियों में रसूल की आमद मरहबा, सरकार की आमद मरहबा की सदाएं गूंजती रहीं।क्षेत्र के खानापट्टी, खालसा सादात, जलेसरगंज, रामपुर बावली, रानीगंज कैथौला, रायपुर तियाई दरगाह में जलूस निकाला गया। जलसा, नाते पाक जैसे कई आयोजनों के माध्यम से मुसलमानों के आखिरी पैग़ंबर हजरत मुहम्मद की इस दुनिया में आमद के दिन का इस्तक़बाल किया गया। 


दरगाह गांव में लालगंज नगर पंचायत के कई इलाकों में भ्रमण कर जलूस निकला गया। जुलूस में दोनों समुदाय के लोगों ने अपनी भागीदारी दर्ज कराकर सदियों से चले आ रहे गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल पेश की। 


वारावफात के नगर में निकले जूलूस में हजरत मौलाना रहमानी मियां ने चौक पर तकरीर में ईमान, मोहब्बत , वतनपरस्ती पर जोर दिया। चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी भी शामिल दिखे। 


जिले के एएसपी पश्चिमी रोहित मिश्रा, सीओ रामसूरत सोनकर ने प्रबंधों का जायजा लिया। लालगंज, जलेसरगंज, रामपुर बावली में पीएसी भी मुस्तैद दिखी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad