Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

केन्द्र घाटी में आतंकवाद से लड़ने की चुनौती का नही कर पा रहा सामना: प्रमोद तिवारी



जम्मू कश्मीर में डीजी रैंक के अफसर की बर्बर हत्या पर राज्यसभा सदस्य ने भाजपा पर बोला बड़ा हमला

कुलदीप तिवारी

लालगंज, प्रतापगढ़। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने केंद्र की मोदी सरकार पर आतंकवाद के खिलाफ लड़ने में इच्छाशक्ति का अभाव करार देते हुए जमकर हमला बोला है।


मंगलवार को रामपुर खास के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे सांसद प्रमोद तिवारी ने जम्मू कश्मीर मे वहां के डीजीपी जेल हेमंत कुमार लोहिया की कुख्यात आंतकी संगठन द्वारा की गयी बर्बर हत्या को केंद्र के लिए सीधी चुनौती कहा है।


 प्रमोद तिवारी ने तल्ख लहजे मे कहा कि जम्मू कश्मीर में सर्वाधिक सुरक्षित क्षेत्र तथा सर्वोच्च सुरक्षा प्राप्त डीजीपी स्तर के अधिकारी हेमन्त की जिस तरह से गला काटकर नृशंसता से हत्या की गयी और बाद में जलाने का खौफनाक प्रयास किया गया वह आतंकवाद से लडने मंे सरकार के दावे का खोखलापन उजागर कर गयी है। 


उन्होनें कहा कि एक तरफ पिछले दो दिनो से घाटी में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपने दौरे के बीच हुई रेैलियों और सभाओं में यह दावा जता रहे हैं कि धारा तीन सौ सत्तर हटाने के बाद घाटी मे आतंकवाद की घटनाओं पर लगाम लगा है।


 वहीं मीडिया से रूबरू हुए प्रमोद तिवारी ने कहा कि गृह मंत्री के इस दावे के विपरीत पडोसी मुल्क से संरक्षण प्राप्त कुख्यात आतंकी संगठन ने असम के रहने वाले वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी हेमन्त की गला रेतकर बर्बर हत्या जिस तरह की है वह राष्ट्रपति शासन के रहते आतंकवाद की कश्मीर में केंद्र को खुली चुनौती है। 


राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने कहा कि जम्मू में डीजी तैनात रहे लोहिया की हत्या की निर्ममता उन पर आतंकियों द्वारा कांच की टूटी बोतल से पेट और बाजू पर भी कई हमले इस तरह किये कि उनके लहूलुहान शव से पेट की आंते तक बाहर आ गयी। 


प्रमोद तिवारी ने घटना को बेहद दुखद और चुनौतीपूर्ण करार देते हुए कहा कि हत्या कर जिस तरह से आतंकियों ने उनके शरीर पर केरोसिन छिडककर जलाने की कोशिश की वह आतंकवाद की अब तक की सबसे बडी दुस्साहसिक पराकाष्ठा है। 


कांग्रेस सांसद प्रमोद तिवारी ने गृह मंत्री से आतंकी वारदात की इस चुनौती से मुकाबला करने पर जोर देते हुए यह भी स्पष्ट किया कि कांग्रेस आतंकवाद से लडने मंे सरकार के साथ है। 


हालांकि प्रमोद तिवारी ने कहा कि मोदी सरकार आतंकवाद से लडने का जोखिम उठाए न कि केवल बातों के जरिए वक्त जाया करे। वहीं श्री तिवारी ने रामपुर खास विधानसभा क्षेत्र के रामपुर बावली, सराय संग्राम सिंह, हिसामपुर, फुरसतगंज आदि जगह नवमी पर दुर्गा पाण्डालों मे पहंुचकर दर्शन पूजन किये। 


उन्होनें स्वयं तथा विधायक मोना की ओर से लोगों को दशहरा की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नवरात्रि का पर्व जहां मातृ शक्ति का द्योतक है वहीं विजय का पर्व दशहरा बुराई पर अच्छाई और असत्य पर सत्य तथा अधर्म पर धर्म की जीत के लिए हमें संघर्ष की प्रेरणा दिया करता है। 


इस मौके पर प्रतिनिधि भगवती प्रसाद तिवारी, मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल, भुवनेश्वर शुक्ल, निसार अहमद, राकेश चतुर्वेदी, रूपनाथ पटेल, सुरेश तिवारी, मेंहदी पटेल, नागेश जायसवाल, राजा कौशल, मुन्ना पटेल, रत्नाकर सिंह, राजू पाण्डेय आदि रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad