Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

पाकिस्तान में इतिहास रचने जा रहे हैं इमरान ,नेशनल असेंबली की सभी 33 सीटों पर अकेले लड़ेंगे उपचुनाव



उमेश तिवारी

काठमांडू / नेपाल:पाकिस्तान में आर्थिक और राजनीतिक उथल-पुथल के बीच नेशनल असेंबली की 33 सीटों पर 16 मार्च को उपचुनाव होना है। हैरानी की बात ये है कि उपचुनाव में इमरान खान अकेले खड़े हो रहे हैं।



पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री इमरान खान देश में मार्च में 33 सीट पर होने वाले उपचुनाव में उनकी पार्टी के एकलौते उम्मीदवार होंगे। उनकी पार्टी ने यह घोषणा की है।


 पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के उपाध्यक्ष और पूर्व विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने रविवार शाम एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि यह फैसला पार्टी की कोर कमेटी की बैठक में किया गया।


कुरैशी ने कहा, इमरान खान सभी 33 संसदीय सीट पर पीटीआई के एकलौते उम्मीदवार होंगे। यह फैसला खान की अध्यक्षता में रविवार को जमान पार्क लाहौर में हुई पार्टी की कोर कमेटी की बैठक में किया गया। पाकिस्तान के निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि नेशनल असेंबली की 33 सीट पर उपचुनाव 16 मार्च को होंगे।


इमरान के 35 सांसदों ने दे दिया था इस्तीफा


पिछले साल अप्रैल में अविश्वास प्रस्ताव के बाद सत्ता से बेदखल किए गए खान की पार्टी के सांसदों ने पाकिस्तान संसद के निचले सदन (नेशनल असेंबली) को छोड़ दिया था। हालांकि, सदन के अध्यक्ष (स्पीकर) राजा परवेज अशरफ ने सांसदों के इस्तीफे को स्वीकार नहीं किया और कहा कि उन्हें व्यक्तिगत रूप से सत्यापित करने की आवश्यकता है कि क्या सांसद अपनी मर्जी से इस्तीफा दे रहे हैं या दबाव में।


 पिछले महीने अध्यक्ष ने पीटीआई के 35 सांसदों के इस्तीफे स्वीकार कर लिए थे, जिसके बाद ईसीपी ने उन्हें गैर-अधिसूचित कर दिया।



तो इमरान की पार्टी का हो जाएगा सफाया


इसके बाद, अध्यक्ष ने अन्य 35 के भी इस्तीफे स्वीकार कर लिए और शेष 43 पीटीआई सांसदों के इस्तीफे के बाद खान ने प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ को विश्वास मत की परीक्षा में डालने के लिए नेशनल असेंबली में लौटने की घोषणा की। ईसीपी ने अब तक 43 पीटीआई सांसदों को गैर- अधिसूचित नहीं किया है। 


अगर ईसीपी शेष 43 पीटीआई सांसदों को गैर-अधिसूचित करता है तो खान की पार्टी का नेशनल असेंबली से लगभग सफाया हो जाएगा। पिछले साल अक्टूबर में अध्यक्ष द्वारा 11 पीटीआई सांसदों के इस्तीफे स्वीकार करने के बाद खान ने आठ संसदीय सीट पर चुनाव लड़ा था जिनमें से छह पर जीत दर्ज की थी।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad