Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

जब जब धरती पर पाप बढ़ता है तब भगवान इस धरती पर अवतार लेते हैं:कथा व्यास पंडित जय प्रकाश शुक्ला



 रजनीश / ज्ञान प्रकाश 

करनैलगंज(गोंडा)। जब जब धरती पर पाप बढ़ता है तब भगवान इस धरती पर अवतार लेते हैं और पापियों का नाश व पुण्यात्मा का कल्याण करते है। करनैलगंज विकास खंड के ग्राम फतेहपुर में चल रहे श्रीमद् भागवत कथा के तीसरे दिन की कथा में कथा व्यास पंडित जय प्रकाश शुक्ला शास्त्री ने कहा कि सात  दिन में पूरे संसार वालों को मरना है रविवार से लेकर सोमवार तक  सात दिन होते हैं किसी के लिए आठवां दिन आने वाला नहीं है। परीक्षित तुमसे ज्यादा चिंता तो संसार के लोगों को होना चाहिए। जिनका एक पल का ठिकाना नहीं है परीक्षित तुम्हारे पास सात दिन कल्याण के लिए बहुत हैं और बताया संसार के लोगों को सब कुछ करने का समय है अगर कुछ करने का समय नहीं है तो भजन करने का समय नहीं है। हम कितना व्यस्त रहें सोते हैं, भोजन करते हैं, संसार में सब कुछ करने  का समय है अगर कुछ करने का समय नहीं है तो भजन करने का समय नहीं है। शास्त्र कहता है कि सौ काम छोड़कर स्नान करना चाहिए, एक हजार काम छोड़कर भोजन करना चाहिए और सब कुछ छोड़कर भजन करना चाहिए। भजन ही मात्र व्यक्ति के कल्याण का साधन है। इस अवसर पर विजय प्रकाश श्रीवास्तव उर्फ गुड्डू, विवेक श्रीवास्तव, पराग श्रीवास्तव, राम कृपाल सिंह, कृष्ण कुमार शुक्ला, कामिनी श्रीवास्तव, धर्मवीर, भोलू,  शिव शंकर लाल श्रीवास्तव, वंदना श्रीवास्तव, गोलू सिंह सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad