इटियाथोक:दो साल से नल रिबोर कराने की मांग दी जा रही झूठी रिपोर्ट, अब तक नही हुआ रिबोर।



रमेश कुमार मिश्रा 

गोण्डा:जन समस्याओं का समयबद्ध व गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण के सख्त निर्देशों को ठेंगा दिखा रहे ब्लॉक स्तर के कर्मचारियों पर कार्रवाई का हंटर चलना उसके बाद बहाली और फिर वही कार्यशैली जनता की समस्याओं के निस्तारण में देखी जा रही है।


अभी कुछ ही दिनों पहले कार्यों में लापरवाही बरतने के मामले में ग्राम पंचायत सचिव समेत अन्य लोगों पर सीडीओ अरुन्नमौली ने निलम्बन की संस्तुति की है। उसके बाद से ब्लॉक स्तर से की जा रही पंचायत सचिवों की मनमानी उजागर हो रही है।


विकास खण्ड के ग्राम पंचायत पूरे दतई के मजरा लदई निवासी दिनेश तिवारी ने वर्ष 2022 में नल रिबोर कराने की मांग करते हुए मुख्यमन्त्री पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई थी।


जिस पर बिना शिकायत कर्ता से सम्पर्क किये फर्जी आख्या रिपोर्ट में निस्तारण कर दिया गया, ये प्रक्रिया लम्बे समय से चलती आ रही है।


शिकायत कर्ता झूठी रिपोर्ट पर अपना फीड बैक दर्ज कराता है और पुनः गुमराम करने वाली आख्या लगा कर पटाक्षेप किया जाता है।



शिकायत कर्ता दिनेश तिवारी ने पोर्टल पर लगाई गयी सभी आख्या रिपोर्ट को संलग्न करके उन्होंने शासन से शिकायत कर दी, जिससे झुंझलाए ग्राम पंचायत सचिव सुरेश चन्द्र मिश्रा ने शिकायत कर्ता से सम्पर्क साधा, बड़े रौबीले अंदाज में उन्होंने शिकायत कर्ता से कहा की तुम्हे अपना काम कराने से मतलब है या सिर्फ शिकायत ही करना है।



इस पर शिकायत कर्ता ने बताया की फर्जी रिपोर्ट लगाई जा रही है लेकिन समस्या बनी हुयी है तो आगे शिकायत तो करनी ही पड़ेगी, उसके बाद ग्राम पंचायत सचिव का गुस्सा सातवे स्थान पर पहुंच गया, उन्होंने झल्लाते हुए फोन काट दिया। इस सम्बन्ध में खण्ड विकास अधिकारी रवि कुमार गुप्ता ने बताया है की मामले की जानकारी की जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने