धौरहरा:आंधी में गिरी अर्धनिर्मित अस्थाई गौशाला



जांच टीम घटित कर जांच हुई शुरू

कमलेश

धौरहरा खीरी:ईसानगर क्षेत्र की ग्राम पंचायत पलिया गांव में नदी किनारे बनाई जा ही अस्थाई गौशाला बीती रात आई तेज आंधी में उड़ गई। जिसको देख लोगों में यह चर्चा व्याप्त हो गई कि गौशाला को भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ाया जा रहा है। 



वही इस बाबत जिम्मेदार लोगों के उलट जबाब देते हुए जांच कमेटी से जांच करवाने की बात कही है।


ईसानगर क्षेत्र की ग्राम पंचायत पलिहा में बन रही अर्धनिर्मित अस्थाई गौशाला बीती रात को हुई बरसात व तेज आंधी में उड़ गई। इस दौरान गौशाला में न ही कोई जानवर थे न ही इंसान जिसके चलते कोई अप्रिय घटना नहीं हुई । 



बताते चले कि यह गौशाला क्षेत्र में फसलों को बर्बाद कर रहे छुट्टा मवेशियों को पकड़कर अस्थाई रूप से कुछ जानवरों को रखने के लिए बनाई जा रही थी। 



जहां मवेशियों के पहुँचने से पहले ही आई तेज हवा में उसके टीनशेड व दीवारें धराशाई हो गई। जिसकी जनकारी होते ही ग्रामीण व आस पड़ोस के लोगों का कहना यह भी है कि इस गौशाला को मानक विहीन बनाया जा रहा था जिसकी वजह से गौशाला पहली ही आँधी में धराशायी हो गई है। 



वही इस बाबत ग्राम पंचायत अधिकारी कमलेश कुमार ने बताया कि गांव में बन रही गौशाला अस्थाई रूप से बनाई जा रही थी। जिसमें अभी एक भी रुपये का बजट जारी नहीं हुआ है। 



बावजूद खंड विकास अधिकारी ने जांच कमेटी गठित कर उसकी जांच शुरू करवा दी है। इसमें कहां लापरवाही हुई है यह जांच के बाद ही पता चल सकेगा।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने