Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

BALRAMPUR...एनसीसी शिविर में सिखाया गया आत्मरक्षा के तरीके



अखिलेश्वर तिवारी
जनपद बलरामपुर जिला मुख्यालय के एमएलके पीजी कॉलेज में स्थापित 51 वीं यू पी बटालियन एन सी सी बलरामपुर के तत्वावधान में श्री राम तीर्थ स्मारक महाविद्यालय इंटियाथोक में चल रहे संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण शिविर के पांचवें दिन रविवार को आत्म सुरक्षा पर व्याख्यान व कार्यशाला का आयोजन किया गया । इस दौरान केडेटों को आत्मरक्षा के गुर सिखाए गए ।


27 अगस्त को आयोजित कार्यशाला का शुभारंभ करते हुए बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल अरविंद प्रताप सिंह पटवाल ने कहा कि हर किसी के लिए अपनी सुरक्षा करने और हथियारों पर भरोसा किए बिना अपने जीवन के लिए लड़ने के लिए आत्मरक्षा कौशल सीखना आवश्यक है । यह हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है कि हम स्वयं अपने सर्वश्रेष्ठ रक्षक बनें। "आत्मरक्षा न केवल हमारा अधिकार है, बल्कि यह हमारा कर्तव्य भी है।" उन्होंने कहा कि आत्मरक्षा में व्यक्तिगत सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ-साथ संभावित खतरों से खुद का बचाव करना भी शामिल है । मुख्य प्रशिक्षक व अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो खिलाड़ी संदीपका रावत ने केडेटों को प्रशिक्षित करते हुए कहा कि
प्रशिक्षण हमलों को रोकने की तकनीक सिखाता है, उनसे पूरी तरह बचना हमेशा बेहतर होता है। इसलिए, आत्मरक्षा प्रशिक्षण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रोकथाम पर केंद्रित होना चाहिए। कमजोरी छोड़ते हुए मानसिक रूप से शक्तिशाली बनना चाहिए । उन्होंने पंचिंग पोजीशन, फारवर्ड अटैक व सेल्फ डिफेंस के बारे में कैडेट्स को विधिवत जानकारी दी । इस दौरान बलरामपुर ताइक्वांडो संघ के अध्यक्ष आनंद शुक्ल, प्रशिक्षण टीम के सदस्य कृष्णा, आकिब, भव्या, अभिषेक, सतीश कश्यप व राजू कुमार ने केडेटों को आत्मरक्षा के गुर सिखाये । इस अवसर पर मेजर अजय मिश्र, लेफ्टिनेंट (डॉ) देवेन्द्र कुमार चौहान, सूबेदार मेजर राम निवास, आनरी लेफ्टिनेंट गुरनैल सिंह सहित कई अन्य अधिकारी व पी आई स्टाफ मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

5/vgrid/खबरे