Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

48 घंटे की पुलिस कस्टडी में वांग, कहीं जासूसी करने दिल्ली तो नहीं गया था



उमेश तिवारी

लखीमपुर खीरी :भारत-नेपाल सीमा पर पकड़े गए चीनी नागरिक वांग जुआंजू का चालान भेजने के बाद पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों ने पूछताछ के लिए उसे 48 घंटे की रिमांड पर लिया है। इस कारण चीनी नागरिक अभी जेल की सलाखों के पीछे नहीं गया है। वह दो दिनों तक पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों की कस्टडी रहेगा। सुरक्षा एजेंसियां उसके दिल्ली कनेक्शन को खंगालने में जुटी है। जासूसी के एंगल से भी जांच की जा रही है।


भारत और चीन के संबंध कुछ सालों से तनावपूर्ण बने हुए हैं। ऐसे हालात में चीनी नागरिक के अवैध तरीके से बिना वीजा के नेपाल के रास्ते भारत में घुसकर दिल्ली जाने की खबर ने सुरक्षा एजेंसियों को हैरत में डाल दिया है। जनपद में करीब 120 किलोमीटर लंबी भारत-नेपाल सीमा है, जो पाकिस्तानी आतंकियों की घुसपैठ को लेकर काफी संवेदनशील मानी जाती है। अब चीनी नागरिक के पकड़े जाने से सुरक्षा एजेंसियों के सामने दोहरी चुनौती आ गई है।


जिस तरह चीनी नागरिक भारत में दाखिल होकर दिल्ली गया, उससे जासूसी का शक गहरा गया है। पुलिस सूत्र बताते हैं कि चीनी नागरिक से दिल्ली जाने की वजह जानना जरूरी है और वहां पर किन लोगों के संपर्क में रहा.. इन सवालों का जवाब मिलने पर ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। फिलहाल सुरक्षा एजेंसियों एटीएस, आईबी व एसएसबी के अधिकारी दो दिनों तक चीनी नागरिक से पूछताछ करेंगी।

चीनी नागरिक वांग जुआंजू 12 फरवरी 2023 को नेपाल पहुंचा था। नेपाल में एक दिन रुकने के बाद 14 फरवरी 2023 को वह गौरीफंटा बार्डर से भारत में दाखिल हुआ था, जहां से प्राइवेट बस के जरिए वह दिल्ली पहुंच गया था। दिल्ली में तीन दिन रुकने के बाद 17 फरवरी को नेपाल लौटते समय गौरीफंटा बार्डर पर उसे एसएसबी ने पकड़ा था। इस पूरे घटनाक्रम से चीनी नागरिक की गतिविधियां काफी संदेहास्पद प्रतीत हो रही हैं। इससे यह बात भी साफ है कि चीनी नागरिक ने भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को चकमा देने की तैयारी की थी, जिसमें वह कुछ हद तक सफल भी रहा।


चीनी नागरिक के पास से मिले सामान और मोबाइल की भी होगी जांच


पुलिस सूत्र बताते हैं कि चीनी नागरिक के पास मिले सामान व मोबाइल को सीज किया जा चुका है, जिसे कोर्ट की अनुमति से खोला जाएगा। उसके पास से मिले दस्तावेजों समेत अन्य सामान के जरिए सही जानकारी सामने आ सकेगी। हालांकि अभी सुरक्षा एजेंसियां पूछताछ के जरिए राज बाहर निकालने की कोशिश कर रही हैं।


चीनी नागरिक का चालान भेजने के बाद पुलिस ने उसे 48 घंटे की रिमांड पर लिया है। सुरक्षा एजेंसियां चीनी नागरिक से पूछताछ कर रही हैं। रिमांड की अवधि समाप्त होने के बाद जरूरी हुआ तो सुरक्षा एजेंसियों की मांग पर रिमांड की अवधि बढ़वाई जा सकती है।

गणेश प्रसाद साहा, एसपी

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

5/vgrid/खबरे