बस्ती:नगर पालिका प्रत्याशी ने दिखाई अपनी ताकत, कड़ी धूप में हजारो की संख्या में मुख्यमंत्री को सुनने पहुंचे लोग


                       वीडियो



सुनील उपाध्याय 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को बस्ती में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने यूपी निकाय चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में वोट डालने की अपील की। 


निकाय चुनाव का प्रचार करने बस्ती पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बस्ती में हुए विकास कार्यो की चर्चा की। उन्होंने कहा कि विकास सबका तुष्टिकरण किसी का नहीं। हम विकास में विश्वास करते हैं तुष्टिकरण में नहीं। 


मुख्यमंत्री ने राजकीय इंटर कालेज में आयोजित जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने विपक्षी दलों पर जमकर हमला बोला। सीएम योगी ने कहा कि यूपी में 35 लाख करोड़ का निवेश होने जा रहा है। 


इसके जरिए वह प्रदेश के एक करोड़ युवाओं को राज्य में ही रोजगार देने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने जो भी योजनाएं चलाई उसका लाभ बिना तुष्टिकरण के दिया।


 क्योंकि हम विकास सबका तुष्टिकरण किसी का नहीं पर विश्वास करते हैं। चाहे वह पीएम आवास की बात हो या उज्जवला योजना या आयुष्मान योजना के तहत पांच लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त देने की हमने हर किसी को उपलब्ध कराया। 


बतौर मुख्यमंत्री नगर निकाय चुनाव में किसी प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करने आने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ पहले सीएम हैं। वहीं दूसरी बार सीएम रहते हुए नगर निकाय चुनाव में जनसभा को संबोधित करने जनपद पहुंचे। 


इसके पहले 2017 में नगर के इसी मैदान में उन्होंने जनसभा को संबोधित किया था। भाजपा इस नगर निकाय चुनाव को कितनी गंभीरता से ले रही है इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सीएम ने खुद भाजपा प्रत्याशियों के चुनाव प्रचार की कमान संभाल रखी है। 


वह उप्र प्रदेश के पहले सीएम हैं जो नगर निकाय चुनाव में जनसभा को संबोधित करने जनपद पहुंचे हो। यह कार्य उन्होंने 2017 के नगर निकाय चुनाव में भी किया था, जब उन्होंने भाजपा प्रत्याशी रहे रूपम मिश्रा के पक्ष में हवा बनाने के लिए नगर के राजकीय कालेज मैदान में जनसभा को संबोधित किया था।


 इस चुनाव में भाजपा प्रत्याशी को जीत मिली थी। वहीं एक बार फिर सीएम योगी आदित्यनाथ 2023 के नगर निकाय चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में हवा बनाने के लिए दूसरी बार जनपद पहुंचे। 


इस बात साफ इशारा करता है कि भाजपा नगर निकाय चुनाव को कितनी गंभीरता से ले रही है। इस चुनाव को ऐसे ही 2024 के लोकसभा चुनाव का रिहर्सल नहीं माना जा रहा है। 


मंच पर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, प्रभारी मंत्री राकेश सचान, सांसद हरीश द्विवेदी, क्षेत्रीय अध्यक्ष सहजानन्द राय, जिलाध्यक्ष महेश शुक्ला, जिला प्रभारी अशोक सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष संजय चौधरी, पूर्व क्षेत्रीय अध्यक्ष विजय सेन सिंह, पूर्व सांसद अष्टभुजा शुक्ला, राजेन्द्र नाथ तिवारी, विधायक अजय सिंह, दयाराम चौधरी, चन्द्र प्रकाश शुक्ला, संजय प्रताप शुक्ला, रवि सोनकर, मौजूद रहे।संचालन अनूप खरे ने किया ।


पवन कसौधन, दिलीप पाण्डेय, प्रमोद पाण्डेय, विवेकानन्द मिश्रा, अमृत कुमार वर्मा, जटाशंकर शुक्ला, अनिल दुबे, अभिषेक कुमार, अवनीश सिंह, प्रांजलि श्रीवास्तव, पंकज श्रीवास्तव, सूरज श्रीवास्तव, आदर्श श्रीवास्तव, अभिनव उपाध्याय, नितेश शर्मा, भूपेन्द्र सिंह राना, दिव्यांशु खरे, अमर दीप पाण्डेय, अखण्ड पाल, विद्या मणि सिंह, आजाद पुरी, भावेश पाण्डेय, चुनमुन लाल, धर्मराज गुप्ता, दिव्या त्रिपाठी, नीलम श्रीवास्तव, दुष्यन्त सिंह, गजेन्द्र सिंह, गिल्लम चौधरी, इन्द्रेश मिश्रा, मनमोहन श्रीवास्तव काजू, कुन्दन वर्मा, मोहित सोनकर, राघवेन्द्र सिंह, राजन मिश्रा, राजन ठाकुर, रवि चन्द्र पाण्डेय, रिंकू दुबे, रोली सिंह, सलमान खान, संध्या दीक्षित, संजय चौरसिया, सतेन्द्र सिंह भोलू, शिव प्रसाद चौधरी, श्याम बिहारी गौड़, श्रुति अग्रहरी, सिद्धार्थ श्रीवास्तव, सुधाकर पाण्डेय, सुनील गुप्ता, पप्पू शुक्ला, वागीश सिंह, अनिल पाण्डेय, कौशल गुप्ता, वरुण सिंह, धर्मेन्द्र जायसवाल, राम निवास गिरी, इन्द्रजीत चौहान, दिलीप भट्ट, विवेकानन्द शुक्ला, संतोष गुप्ता, मोहन गुप्ता, मनोज ठाकुर, वैभव पाण्डेय, प्रमोद गुप्ता, प्रफ्फुल श्रीवास्तव, रवि पासवान, सत्यपाल सिंह, सोनू पाण्डेय, सुभाष श्रीवास्तव, विपिन राय सहित हजारो की संख्या संख्या में लोग मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने