Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

नदियों की स्वच्छता का दायित्व निभाना आवश्यक:श्रीपर्णा



रजनीश / ज्ञान प्रकाश 

करनैलगंज(गोंडा)। सरयू नदी स्वच्छता अभियान के अंतर्गत कटरा घाट पर सफाई अभियान चलाया गया। जिसमें कई कुंतल कचरा नदी के निकालकर नदी को साफ किया गया। साथ ही नदी के विनाशकारी जलकुंभी को भी नदी से निकाला गया। 


टर्टल सर्वाइवल एलायंस, नेचर क्लब फाउंडेशन आदि संस्थाओं व लोगों के द्वारा यह अभियान वर्ष 2018 में शुरू किया गया था। जिसमें लोग नियमित रूप से घाट पर इकट्ठा होकर नदी से कचरा निकालकर लोगों को जागरूक करते हैं। इसी क्रम में स्वयं सेवकों ने सरयू नदी पर वृहद स्वच्छता अभियान चलाकर जागरूकता संदेश दिया। 


 टीएसए की श्रीपर्णा व नेचर क्लब के अभिषेक दूबे ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि सरयू नदी हमारी माता हैं, कोई कूड़ेदान नहीं है। उन्होंने बताया कि स्वच्छता अभियान के साथ सरयू नदी के किनारे के स्कूलों में जागरूकता कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है ताकि सभी लोगों के व्यवहार में परिवर्तन लाकर सबके प्रयासों से नदी को बचाया जा सके क्योंकि आज नदी लोगों के असंवेदनशील रवैये के कारण दम तोड़ रही है, हर रोज सिर्फ कटरा घाट पर सैकड़ों लोग काफी अधिक अपशिष्ट नदी में फेंकते हैं।


 अभियान में टीएसए इंडिया की श्रीपर्णा दत्ता ने बताया कि टीएसए इंडिया जिला बेसिक शिक्षा विभाग के साथ मिलकर करनैलगंज के 2 दर्जन से अधिक प्राथमिक व उच्चप्राथमिक स्कूलों में भी जागरूकता कार्यक्रम चल रहा है। दुर्गेश कश्यप ने बताया कि जल्दी ही कटरा घाट को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त भी कराया जाएगा क्योंकि सिंगल यूज प्लास्टिक ही नदियों व धरती का बहुत बड़ा काल बन चुका है, लोगों को समझदारी दिखाते हुए इसका प्रयोग बंद करना चाहिए।


 मनीष मिश्र ने बताया कि जनजागरूकता से बच्चो में काफी परिवर्तन देखने को मिल रहा है।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad