Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

जानकीघाट चारुशिला मन्दिर महंत बल्लभाचार्य को महंतो ने कंठी चद्दर देकर सौंपी महन्ती की मान्यता


वासुदेव यादव
अयाेध्या। धर्मनगरी की प्रसिद्ध पीठ चारू शिला मन्दिर, जानकीघाट का नया महन्त जगद्गुरू रामानंदाचार्य स्वामी वल्लभाचार्य महाराज काे बनाया गया। जिन्हें मंगलवार काे एक महन्ताई समाराेह के दाैरान, अयाेध्या के विशिष्ट सन्त-महन्ताें ने कण्ठी, चादर और तिलक देकर महन्ती की मान्यता प्रदान किया। इस माैके पर नवनियुक्त महन्त ने कहाकि इस मन्दिर की बागडाेर अब मुझे साैंपी गई है, जिसका मैं अक्षरश: पालन करूंगा। साथ ही आश्रम के उत्तराेत्तर विकास के लिए भी कृत-संकल्पित हूं। यहां गाै, संत, विद्यार्थी व आगन्तुकाें की सेवा भलीभांति हाेती रहेगी। वहीं चारू शिला के वयाेवृद्ध महन्त रामटहल शरण वेदान्ती महाराज ने कहाकि मैंने स्वामी वल्लभाचार्य में कुशल याेग्यता काे देखते हुए आज उन्हें आश्रम की महन्ती साैंप दी है। अब वही मन्दिर की देखभाल और महन्ती संभालेंगे। इस अवसर पर मणिराम छावनी के महन्त व श्रीरामजन्मभूमि न्यास अध्यक्ष नृत्यगोपाल दास, रामहर्षण कुंज के महन्त अयाेध्या दास, रंगमहल महन्त रामशरण दास, लक्ष्मणकिला धीश महन्त मैथिलीरमण शरण, रामकथा मण्डप महन्त डॉ. रामानंद दास, विद्याकुंड महन्त उमेश दास, तपस्वी छावनी महन्त परमहंसदास, महन्त सीताराम दास महात्यागी, अधिकारी राजकुमार दास, महन्त कन्हैयादास रामायणी, महन्त वैष्णव दास, महन्त रामनरेश दास, महन्त अर्जुन दास, महन्त राजेन्द्र दास, महन्त अवधकिशाेर शरण, महन्त रामलाेचन शरण, महन्त संतगाेपाल दास, महन्त सियाराम शरण, महन्त रामजी शरण, महन्त रामभजन दास, महन्त अजय दास, महन्त मनीष दास, महन्त शशिकान्त दास, महन्त राममिलन दास, स्वामी छविराम दास, समाजसेवी राघवदास, नागा रामलखन दास, राजेश द्विवेदी सतवा म.प्र., आरएस उपाध्याय, चिन्तामणि त्रिपाठी, राजबहादुर द्विवेदी, रमाकांत द्विवेदी, साेनू तिवारी, पंकज शुक्ला, विश्वनाथ उपाध्याय, बृजेन्द्र त्रिपाठी, श्याम शास्त्री आदि उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad