Type Here to Get Search Results !

Bottom Ad

असम मेघालय सीमा पर गोलीबारी भाजपा सरकार के अनियंत्रण का नतीजा: प्रमोद तिवारी



कांग्रेस सांसद ने असम के सीएम द्वारा राहुल गांधी को लेकर बयानबाजी पर भी किया तल्ख पलटवार

कुलदीप तिवारी 

लालगंज प्रतापगढ़। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने असम मेघालय सीमा पर तस्करी को लेकर हुई गोलीबारी को भाजपा शासित दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों मे ही आपसी समन्वय न होने का नतीजा करार दिया है। 


वहीं उन्होने इस घटना मे मारे गये वनरक्षक समेत सात लोगों की मौत को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए असम व मेघालय के बीच सुलग रही काफी दिनो से हिंसा की आग को लेकर केंद्र सरकार द्वारा भी प्रभावी नियंत्रण न कर पाने का तल्ख आरोप लगाया है। 


वहीं असम के मुख्यमंत्री हेमंता विश्वा शर्मा के द्वारा भारत जोडो यात्रा को लेकर राहुल गांधी पर दिए गए आपत्तिजनक बयान को सिर्फ सीएम की अपनी कुर्सी को लेकर असुरक्षा की चिंता में कुण्ठाजनक कहा है। 


उन्होने कहा कि आसाम के मुख्यमंत्री को पहले अपने राज्य मे असम मेघालय सीमा पर हिंसा के माहौल को खत्म करने के लिए अपने कर्तव्यो का निर्वहन करना चाहिए। उन्होने कहा कि असम के सीएम द्वारा सीमा पर शांति बहाली के प्रयास की जगह इस प्रकार की गैर राजनैतिक ओछी बयानबाजी से जनता का ध्यान हटाने के लिए व्यर्थ समय नही गंवाना चाहिए। 


वहीं कांग्रेस सांसद द्वारा विहिप द्वारा उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले का नाम नाथूराम गोडसे के नाम पर करने के प्रस्ताव को भी महात्मा गांधी के विचारों का कडा अपमान बताया। उन्होनें यह भी साफ किया कि गांधी जी के हत्यारे गोडसे के नाम पर मेरठ के नाम बदलने के भाजपा के महिमामण्डन के प्रयास का कांग्रेस जोरदार विरोध करेगी।


 प्रमोद तिवारी ने भाजपा को रोजगार के क्षेत्र में अब तक की सबसे बड़ी विफल सरकार करार देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री हर साल नौजवानो को दो करोड़ का रोजगार देने का अपना वचन भूल चुके हैं। 


उन्होने कहा कि नियमित रूप से सरकारी क्षेत्र मे खाली पदों को भरने के नाम पर एनडीए शासित राज्यों में रोजगार मेले के भाजपा के दावे को भी नौजवानों के साथ फरेब करार दिया है। 


बुधवार को यहां मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल के हवाले से जारी बयान में राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने भाजपा पर सैतालिस साल की सबसे बडी बेरोजगारी की पीड़ा देने वाली विफल से विफलतम सरकार कहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad



 

Below Post Ad

Bottom Ad